शनिवार, 27 जून 2015

हिंगुला शक्तिपीठ: Hingula shaktipeeth : Sanjay Mehta Ludhiana










हिंगुला शक्तिपीठ : यह शक्तिपीठ पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के हिंगलाज नामक स्थान में है। हिंगलाज कराची से १४४ कि. मी. दूर उत्तर-पश्चिम दिशा में हिंगोस नदी के तट पर है। कराची से फारस की खाड़ी की जाते हुए मकारन्तक जलमार्ग तथा आगे पैदल जाने पर ७ वे मुकाम पर चंदरकूप है। यह आग उगलता हुआ सरोवर है। इस यात्रा का अधिकाँश भाग मरुस्थल से होकर तय करना पड़ता है। जो अत्यंत दुष्कर होता है। चंद्रकूप पर प्रत्येक यात्री को अपने प्रच्छन्न पापों को जोर-जोर से कहकर उनके लिए क्षमा मांगनी पड़ती है। और आगे ना करने की शपथ लेनी होती है। आगे १३ वे मुकाम पर हिंगलाज है। यही एक गुफा के अंदर जाने पर हिंगलाजदेवी का स्थान है। जहाँ शक्तिरूप ज्योति के दर्शन होते है। गुफा में हाथ-पैर के बल जाना होता है . यहाँ देवी देह का ब्रह्मरंध्र गिरा था। यहाँ की शक्ति "कोट्ट्री" तथा भैरव "भीमलोचन" है।
जय माता दी जी








कोई टिप्पणी नहीं: